पंजाब में अवैध खनन मामला: नवजोत सिद्धू की याचिका पर सरकार को नोटिस जारी

पंजाब में अवैध खनन मामला: नवजोत सिद्धू की याचिका पर सरकार को नोटिस जारी

Notice issued to punjab government

 Notice issued to punjab government

नवजोत सिंह सिद्धू की ओर से एनजीटी में दायर याचिका पर पंजाब सरकार को नोटिस जारी किया गया है। सरकार को 11 मार्च तक जवाब देना होगा। पंजाब में अवैध खनन मामले को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू की ओर से एनजीटी में दायर याचिका पर सोमवार को सुनवाई हुई। इस दौरान ट्रिब्यूनल ने पंजाब सरकार को नोटिस जारी किया है। एनजीटी ने सरकार से 11 मार्च तक जवाब मांगा है।

Read also: PM Awas Yojana; लाभार्थियों को मिली पहली किस्त की सौगात, पीएम मोदी कर रहे है लाभार्थियों से संवाद

इसके साथ ही ट्रिब्यूनल ने पंजाब के सभी जिलाधिकारियों को भी नोटिस जारी कर उनके इलाके में खनन सम्बन्धी रिपोर्ट तलब की है। याचिका में सिद्धू ने यह भी कहा था कि पंजाब में बड़े स्तर पर अवैध खनन जारी है और खनन साइटों में बड़ी संख्या में क्रशर और खनन संबंधी मशीनरी इस्तेमाल की जा रही है, जिससे नदी तल खिसकने का खतरा बढ़ गया है। अवैध खनन के कारण ही निकटवर्ती इलाकों में बाढ़ का खतरा भी बढ़ गया है और पर्यावरण पर इसका विपरीत प्रभाव पड़ रहा है। सिद्धू ने याचिका में एनजीटी को यह भी बताया है कि पंजाब में अवैध खनन का मामला पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में भी पहुंचा था, जहां सुनवाई के दौरान रोपड़ में अवैध खनन की बात सामने आई और यह भी खुलासा हुआ था कि जिला प्रशासन के साथ-साथ पुलिस भी अवैध खनन में लगे लोगों का बचाव कर रही है।

Notice issued to punjab government

About The Author

Advertisement

Latest News

कंगना रनोट को CISF महिला जवान ने थप्पड़ मारा कंगना रनोट को CISF महिला जवान ने थप्पड़ मारा
हाल ही में हिमाचल प्रदेश के मंडी से लोकसभा चुनाव जीतने वालीं कंगना रनोट को चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर तैनात CISF...
पंजाब में एक बार फिर चुनावी जंग , 5 विधानसभा सीटों पर होंगे उपचुनाव
JJP के बागी 2 MLA सैनी के डिनर में पहुंचे; जजपा दोनों के खिलाफ दलबदलू याचिका दे चुकी
हरियाणा में आंधी-बूंदाबांदी, पंजाब में बारिश का अलर्ट
NDA गठबंधन की जेपी नड्डा के घर आज बैठक, चुनाव आयोग आज राष्ट्रपति को सौंपेगा सांसदों के नाम की लिस्ट
सरकार बनाएंगे या विपक्ष में बैठेंगे, आज शाम को तय होगा
पीएम मोदी ने राष्ट्रपति को इस्तीफा सौंपा