महाराजा रणजीत सिंह प्रैपरेटरी इंस्टीट्यूट के दाखि़ला परीक्षा में 3000 से अधिक उम्मीदवार बैठे

महाराजा रणजीत सिंह प्रैपरेटरी इंस्टीट्यूट के दाखि़ला परीक्षा में 3000 से अधिक उम्मीदवार बैठे

चंडीगढ़, 14 जनवरी: महाराजा रणजीत सिंह आम्र्ड फोर्सिस प्रैपरेटरी इंस्टीट्यूट (एम.आर.एस.ए.एफ.पी.आई.), एस.ए.एस. नगर (मोहाली) में शुरू होने वाले 14वें कोर्स के लिए आज 3018 उम्मीदवारों ने दाखि़ला परीक्षा दी। यह संस्था कैबिनेट मंत्री श्री अमन अरोड़ा के नेतृत्व वाले पंजाब रोजग़ार सृजन, कौशल विकास और प्रशिक्षण विभाग के अधीन चल रही है।   एम.आर.एस.ए.एफ.पी.आई. के डायरैक्टर […]

चंडीगढ़, 14 जनवरी:

महाराजा रणजीत सिंह आम्र्ड फोर्सिस प्रैपरेटरी इंस्टीट्यूट (एम.आर.एस.ए.एफ.पी.आई.), एस.ए.एस. नगर (मोहाली) में शुरू होने वाले 14वें कोर्स के लिए आज 3018 उम्मीदवारों ने दाखि़ला परीक्षा दी। यह संस्था कैबिनेट मंत्री श्री अमन अरोड़ा के नेतृत्व वाले पंजाब रोजग़ार सृजन, कौशल विकास और प्रशिक्षण विभाग के अधीन चल रही है।  

एम.आर.एस.ए.एफ.पी.आई. के डायरैक्टर मेजर जनरल अजय एच चौहान, वी.एस.एम. (सेवानिवृत्त) ने आज मोहाली में दो परीक्षा केन्द्रों का औचक दौरा किया। इस दाखि़ला परीक्षा के लिए स्कूल ऑफ ऐमिनेंस फेज 3बी1, मोहाली और बी.एस.एच. आर्य हाई स्कूल, मोहाली, डी.ए.वी. पब्लिक स्कूल पी.ए.पी., जालंधर और आर.बी. डी.ए.वी. पब्लिक स्कूल, बठिंडा में चार परीक्षा केंद्र बनाए गए थे।  

उन्होंने बताया कि 150 सफल उम्मीदवारों को बाद में अंतिम चयन प्रक्रिया के लिए बुलाया जाएगा, जिनमें से 48 उम्मीदवारों का चयन किया जाएगा। चुने गए उम्मीदवारों को संस्था के समर्पित स्टाफ की योग्य निगरानी अधीन  नेशनल डिफेंस अकैडमी (एन.डी.ए.) या इसके बराबर की अकैडमियों के द्वारा हथियारबंद सेनाओं में कमिश्न्ड अफ़सर के तौर पर भर्ती होने के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा।  

मेजर जनरल अजय एच चौहान ने कहा कि इस इंस्टीट्यूट के अब तक 226 कैडिट एन.डी.ए. समेत अन्य सर्विसिज अकैडमियों में शामिल हो चुके हैं। उन्होंने आगे कहा कि इस साल दाखि़ला परीक्षा के लिए बड़ी संख्या में लडक़ों (4100) ने ख़ुद को रजिस्टर किया था, जोकि अपने आप में एक रिकॉर्ड है, जो मुख्यमंत्री स. भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार के ठोस प्रयासों और संस्था की सफलता का परिणाम है।

Tags:

About The Author

Advertisement

Latest News