सरपंचों से रिश्वत लेने के दोष अधीन विजीलैंस द्वारा बी.डी.पी.ओ. गिरफ्तार 

सरपंचों से रिश्वत लेने के दोष अधीन विजीलैंस द्वारा बी.डी.पी.ओ. गिरफ्तार 

चंडीगढ़, 12 जनवरी:पंजाब विजीलैंस ब्यूरो ने आज ब्लॉक ममदोट, जि़ला फिऱोज़पुर में तैनात ब्लॉक विकास एवं पंचायत अधिकारी (बीडीपीओ) सरबजीत सिंह को इलाके के सरपंचों से रिश्वत लेने के दोष अधीन गिरफ़्तार किया है।  इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए आज यहाँ राज्य विजीलैंस ब्यूरो के सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि उक्त मुलजिम बीडीपीओ को जांच […]

चंडीगढ़, 12 जनवरी:
पंजाब विजीलैंस ब्यूरो ने आज ब्लॉक ममदोट, जि़ला फिऱोज़पुर में तैनात ब्लॉक विकास एवं पंचायत अधिकारी (बीडीपीओ) सरबजीत सिंह को इलाके के सरपंचों से रिश्वत लेने के दोष अधीन गिरफ़्तार किया है।  
इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए आज यहाँ राज्य विजीलैंस ब्यूरो के सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि उक्त मुलजिम बीडीपीओ को जांच के उपरांत रिश्वतें लेने का दोषी पाए जाने के बाद गिरफ़्तार किया गया है।  
उन्होंने आगे बताया कि ब्लॉक ममदोट के गाँव कोठे किल्ली वाले के सरपंच पिप्पल सिंह, गाँव मुहम्मद ख़ान नियाजियां के सरपंच परगट सिंह, गाँव गट्टी मस्तान नंबर 2 के सरपंच अनोख सिंह, गाँव चक्क अमरीक सिंह वाला की सरपंच परमजीत कौर के पति गुरबचन सिंह, गट्टी मस्ता नंबर-01 गाँव के सरपंच सरजीत सिंह और गाँव कोट बिशन सिंह मानावाला के सरपंच परमजीत सिंह ने तफ़तीशी अफ़सर के आगे बयान दिया कि उक्त बी.डी.पी.ओ. ब्लॉक की पंचायतों के काम करवाने से पहले और काम मुकम्मल होने के बाद उनसे रिश्वतें लेता था। उन्होंने आगे और दोष लगाया कि यदि उसे रिश्वत नहीं दी जाती थी तो वह गाँव के कार्यों सम्बन्धी मंज़ूरियां देने में देरी करता था।  
 पड़ताल के दौरान रिकॉर्ड में यह भी सामने आया कि गाँव बस्ती दूला सिंह में ज़ीरो लाईन पर किए गए कार्यों की अदायगी करने के बदले सरपंच जसवंत सिंह ने उक्त बीडीपीओ सरबजीत सिंह के मोबाइल पर अपने आई.सी.आई.सी.आई. बैंक के खाते से गूगल पे के द्वारा दो बार क्रमवार 30,000 रुपए और 5,000 रुपए रिश्वत ट्रांसफर किए थे। उक्त सरपंच ने आगे यह भी दोष लगाया कि उसने हाल ही में गाँव में विकास कार्य मुकम्मल करने के बदले बीडीपीओ के उसी खाते में 10 हज़ार रुपए और ट्रांसफर किए हैं।  
उक्त शिकायतकर्ताओं ने बताया कि वह डर और मजबूरी के चलते अब तक उक्त अधिकारी को रिश्वतें दे रहे थे, परन्तु अब वह रिश्वत देकर काम करवाना नहीं चाहते। शिकायतकर्ता ने विजीलैंस को सबूत के तौर पर किए गए भुगतानों और बैंक खाते के विवरणों के स्क्रीनशॉट भी जमा करवाए हैं।  
 प्रवक्ता ने बताया कि उक्त सरपंचों से रिश्वत मांगने और लेने के दोष अधीन उक्त बी.डी.पी.ओ. के खिलाफ विजीलैंस ब्यूरो के थाना फिऱोज़पुर रेंज में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत केस दर्ज किया गया है। उसे कल अदालत में पेश किया जाएगा और इस केस सम्बन्धी आगे की जांच जारी है।

Tags:

About The Author

Advertisement

Latest News