पंजाब सरकार को ज़मीन-जायदाद की रजिस्टरियों से आमदन में 32 प्रतिशत की वृद्धि: जिम्पा  

पंजाब सरकार को ज़मीन-जायदाद की रजिस्टरियों से आमदन में 32 प्रतिशत की वृद्धि: जिम्पा  

चंडीगढ़, 7 जनवरी: मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा पारदर्शी, परेशानी रहित और भ्रष्टाचार मुक्त सेवाएं देने के नतीजे की वजह से ज़मीन-जायदाद की रजिस्टरियों से पंजाब सरकार को केवल दिसंबर महीने में ही पिछले साल के मुकाबले 32 प्रतिशत ज़्यादा आमदन हुई है। पंजाब के राजस्व मंत्री ब्रम शंकर जिम्पा ने […]

चंडीगढ़, 7 जनवरी:

मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा पारदर्शी, परेशानी रहित और भ्रष्टाचार मुक्त सेवाएं देने के नतीजे की वजह से ज़मीन-जायदाद की रजिस्टरियों से पंजाब सरकार को केवल दिसंबर महीने में ही पिछले साल के मुकाबले 32 प्रतिशत ज़्यादा आमदन हुई है। पंजाब के राजस्व मंत्री ब्रम शंकर जिम्पा ने बताया है कि ज़मीन-जायदाद की रजिस्टरियों से पंजाब सरकार के खजाने में दिसंबर 2023 में पिछले साल के मुकाबले 102.04 करोड़ रुपए ज़्यादा आए हैं। दिसंबर 2022 के 315.81 करोड़ रुपए के मुकाबले दिसंबर 2023 में सरकारी खजाने में 417.85 करोड़ रुपए आए।  
जिम्पा ने बताया कि अप्रैल 2023 से दिसंबर 2023 तक कुल 3142.67 करोड़ रुपए की आमदन हुई है। पिछले साल 2022 में यही आमदन 2856.86 करोड़ रुपए थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान द्वारा स्पष्ट दिशा-निर्देश दिए हुए हैं कि भ्रष्टाचार को किसी भी स्तर पर बर्दाश्त न किया जाए। राजस्व विभाग में भी यदि किसी भी स्तर पर लोगों को काम करवाने में कोई दिक्कत आती है तो मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान द्वारा इस संबंधी हेल्पलाइन नंबर 8184900002 जारी किया हुआ है, जिस पर लिखित शिकायत वाट्सऐप की जा सकती है। एन.आर.आईज़ अपनी लिखित शिकायतें 9464100168 नंबर पर भेज सकते हैं।  
जिम्पा ने बताया कि राजस्व विभाग की कारगुज़ारी को और अधिक सुधारने के लिए और लोगों को निर्विघ्न सेवाएं देने के लिए नयी नियुक्तियाँ की जा रही हैं और पढ़े-लिखे नौजवान लडक़े-लड़कियों को रोजग़ार दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान द्वारा सभी नियुक्तियाँ केवल मेरिट के आधार पर की जा रही हैं, जिसके अच्छे नतीजे निकल कर सामने आ रहे हैं। नव-नियुक्त लडक़े-लड़कियाँ अपना काम पूरी ईमानदारी, निष्ठा और भ्रष्टाचार मुक्त रूप से कर रहे हैं।  
उन्होंने अपील की कि राज्य के खजाने को और अधिक मज़बूत करने के लिए लोग सरकार का साथ दें और किसी भी जायज काम के लिए किसी भी अधिकारी/ कर्मचारी को कोई रिश्वत न दी जाए और यदि राजस्व विभाग का कोई अधिकारी/ कर्मचारी किसी काम के बदले पैसे माँगता है तो बेझिझक होकर इसकी शिकायत की जाए। दोषी को किसी भी हालत में बख्शा नहीं जाएगा। 

Tags:

About The Author

Advertisement

Latest News