भारत निर्वाचन आयोग ने ईवीएम और वीवीपीएटी पर राष्ट्रव्यापी जागरूकता कार्यक्रम किया शुरू

भारत निर्वाचन आयोग ने ईवीएम और वीवीपीएटी पर राष्ट्रव्यापी जागरूकता कार्यक्रम किया शुरू

चंडीगढ़, 19 जनवरी: लोकसभा 2024 के आम चुनावों से पहले, नागरिकों को मतदान प्रक्रिया का प्रत्यक्ष अनुभव और मशीनों से परिचित कराने के लिए इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) और वोटर वेरिफिएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) पर एक राष्ट्रव्यापी जागरूकता कार्यक्रम चलाया जा रहा है। अधिक विवरण देते हुए प्रवक्ता ने कहा कि लोकसभा और राज्य […]

चंडीगढ़, 19 जनवरी:

लोकसभा 2024 के आम चुनावों से पहले, नागरिकों को मतदान प्रक्रिया का प्रत्यक्ष अनुभव और मशीनों से परिचित कराने के लिए इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) और वोटर वेरिफिएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) पर एक राष्ट्रव्यापी जागरूकता कार्यक्रम चलाया जा रहा है।

अधिक विवरण देते हुए प्रवक्ता ने कहा कि लोकसभा और राज्य विधान सभा के प्रत्येक आम चुनाव से पहले आयोजित किया जाने वाला जागरूकता कार्यक्रम ईवीएम और वीवीपीएटी की विशेषताओं के बारे में जानकारी देने और वोट डालने की चरण-दर-चरण प्रक्रिया को समझाने पर केंद्रित है और मतदाताओं को वीवीपीएटी पर्ची के माध्यम से अपनी पसंद को सत्यापित करने के बारे में शिक्षित करना है। भौतिक प्रदर्शन के माध्यम से जागरूकता ईवीएम और वीवीपीएटी कार्यक्षमता की गहरी समझ को बढ़ावा देती है और गलतफहमियों को दूर करती है। इस तरह का जागरूकता कार्यक्रम मतदाताओं के विश्वास को बढ़ाने और अधिक सूचित एवं सहभागी मतदाता सुनिश्चित करने में सहायक है।

उन्होंने आगे कहा कि कार्यक्रम में 31 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों (हाल ही में चुनाव हुए 5 राज्यों को छोडक़र) के 613 जिलों में फैले 3464 विधानसभा क्षेत्रों में आउटरीच और जागरूकता गतिविधियां शामिल हैं। जनता के सामने ईवीएम/वीवीपीएटी की कार्यप्रणाली को भौतिक रूप से प्रदर्शित करने के लिए 3500 से अधिक प्रदर्शन केंद्र और लगभग 4250 मोबाइल वैन स्थापित की गई हैं। इस जागरूकता कार्यक्रम की पहुंच बढ़ाने के लिए सीईओ और डीईओ सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपडेट भी साझा कर रहे हैं।

Tags:

About The Author

Advertisement

Latest News