डी.आर. एक्स-मशीन लगने से हर दिन होंगे करीब 400 एक्स-रे: शौकत अहमद पारे

डी.आर. एक्स-मशीन लगने से हर दिन होंगे करीब 400 एक्स-रे: शौकत अहमद पारे

बठिंडा, 2 जनवरी: डी.आर. एक्स मशीन से प्रतिदिन करीब 400 एक्स-रे किये जायेंगे. जिससे मरीज को प्राइवेट लैब या अगले दिन बाहर नहीं आना पड़ेगा और उसी दिन पूरा इलाज संभव हो सकेगा। ये विचार श्री शौकत अहमद पारे ने स्थानीय सिविल अस्पताल में स्थापित डीआर (डबल डिटेक्टर) एक्स-रे (एमएआरएस 40 डुअल डिटेक्टर) मशीन के […]

बठिंडा, 2 जनवरी: डी.आर. एक्स मशीन से प्रतिदिन करीब 400 एक्स-रे किये जायेंगे. जिससे मरीज को प्राइवेट लैब या अगले दिन बाहर नहीं आना पड़ेगा और उसी दिन पूरा इलाज संभव हो सकेगा। ये विचार श्री शौकत अहमद पारे ने स्थानीय सिविल अस्पताल में स्थापित डीआर (डबल डिटेक्टर) एक्स-रे (एमएआरएस 40 डुअल डिटेक्टर) मशीन के शुभारंभ के अवसर पर व्यक्त किये। इस अवसर पर सिविल सर्जन डाॅ. तेजवंत सिंह ढिल्लों विशेष रूप से उपस्थित थे।

इस मौके पर डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि पंजाब में पीएचएससी के तहत यह पहला जिला अस्पताल है जहां यह मशीन लगाई गई है। इस मशीन से बठिंडा के अलावा आसपास के लोगों को भी काफी फायदा होगा। उन्होंने बताया कि जिला अस्पताल में प्रतिदिन करीब 1000 मरीज आते हैं, जिनमें से करीब 300 मरीजों को एक्स-रे कराने की जरूरत होती है, लेकिन मशीन सी.आर. क्योंकि इतने सारे एक्स-रे कराना संभव नहीं था, जिससे मरीजों को परेशानी उठानी पड़ी।

सिविल सर्जन डाॅ. इस मशीन के बारे में अधिक जानकारी देते हुए तेजवंत सिंह ढिल्लों ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के एमडी की मंजूरी से यह मशीन रोगी कल्याण समिति के फंड से खरीदी गई है. उन्होंने बताया कि यह पूरा डीआर सिस्टम 55 से 60 लाख रुपये में लगाया जाता है, लेकिन पुरानी सीआर मशीन के कुछ पार्ट्स का इस्तेमाल कर इसे करीब 24 लाख रुपये में खरीदा गया है. उन्होंने कहा कि जिला अस्पताल बठिंडा में पहले से चल रहे 2 सीआर सिस्टम में से एक को डीआर सिस्टम के रूप में चलाया जाएगा और दूसरा सीआर सिस्टम पहले की तरह चलता रहेगा।

इस मौके पर सिविल सर्जन ने कहा कि पहले जिला अस्पताल बठिंडा के लिए एचपीसीएल, एचएमईएल और ट्रांसएशिया की ओर से सीएसआर स्कीम के तहत अस्पताल को करीब 2.25 करोड़ रुपये के मेडिकल उपकरण दिए गए थे, लेकिन यह डीआर एक्स रे मशीन अस्पताल के मरीज से खरीदी गई है। कल्याण समिति।

इस बीच, उप चिकित्सा आयुक्त डाॅ. रमनदीप सिंगला और वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डाॅ. सतीश जिंदल ने बताया कि इस मशीन से मरीजों और रेडियोग्राफरों पर रेडिएशन का असर पहले की तुलना में आधा रह जाएगा।

Tags:

About The Author

Advertisement

Latest News

हरियाणा में बोगस वोटिंग पर 2 पूर्व CM आमने-सामने हरियाणा में बोगस वोटिंग पर 2 पूर्व CM आमने-सामने
हरियाणा में पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल के सिरसा और रोहतक में बोगस वोटिंग पर दिए बयान पर पूर्व CM भूपेंद्र...
जम्मू में बस 150 फीट गहरी खाई में गिरी
लोगों ने फैसला कर लिया है, सर्वे आ चुका है कि आप 13-0 से जीत रही है: भगवंत मान
पंजाब के लोग 1 जून को अमित शाह की धमकी का जवाब देंगे, भाजपा की जमानत जब्त कराएंगे - केजरीवाल
चंडीगढ़ में बोले अरविंद केजरीवाल - अच्छे दिन आने वाले हैं, मोदी जी जाने वाले हैं
T20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय अभियान शुरू, न्यूयॉर्क में ऐसा रहा पहला सेशन, 2 महीने बाद आए साथ
क्या था लाहौर घोषणापत्र, जिसके बाद पाक ने किया विश्वासघात, अब शरीफ ने कहा-हमारी गलती थी