बहुत ज्यादा गर्मी लगने का क्या है कारण ? इसके पीछे की क्या है असल वजह और जानिए कम करने के उपाय

एक स्वस्थ व्यक्ति के शरीर का तापमान लगभग  98.6°F या 37°C होना चाहिए

बहुत ज्यादा गर्मी लगने का क्या है कारण ? इसके पीछे की क्या है असल वजह और जानिए कम करने के उपाय

 मई और जून माह में गर्मी अपने चरम पर रहती है। देश के कई राज्यों में तापमान 50 डिग्री के ऊपर पहुंच जाता है। इस बढ़ती गर्मी में लोगों का हाल बेहाल हो जाता है। एक्सपर्ट्स की माने तो भीषण गर्मी स्वास्थ्य के लिए काफी नुकसानदेह होती है। इसकी वजह से कई तरह की परेशानियां जैसे- हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, आंखों से जुड़ी बीमारी इत्यादि का खतरा रहता है। इसलिए गर्मियों में तेज धूप से बचने की सलाह दी जाती है। लेकिन हम में से कुछ ऐसे लोग हैं, जिन्हें कुछ ज्यादा ही गर्मी लगती है। क्या आप जानते हैं कि इसके पीछे की क्या वजह है? आखिर क्यों आपको अधिक गर्मी लगती है? अगर नहीं, तो आइए इस लेख में जानते हैं कि आखिर कुछ लोगों को अधिक गर्मी क्यों लगती है?

शरीर के तापमान को समझना है जरूरी

एक स्वस्थ व्यक्ति के शरीर का तापमान लगभग  98.6°F या 37°C होना चाहिए। हालांकि, शरीर का तामपान व्यक्ति की उम्र, उसके रहने का स्थान और कार्यों पर निर्भर करता है। हमारा शरीर स्वयं ही शरीर के बढ़ते और घटते तामपान को कंट्रोल करता है। वहीं, कुछ ऐसी स्थितियां होती हैं, जिसकी वजह से शरीर को अधिक गर्मी लगने लगती है। ऐसे में आपको दूसरों  की तुलना में काफी ज्यादा गर्मी लगती है। 

places-with-high-temperature-in-summers

वैज्ञानिकों का कहना है कि हमारे शरीर में ब्लड सर्कुलेट करने वाली प्रणाली तापमान को कंट्रोल करने का कार्य करती है। जब हमारा ब्लड वेसेल्स फैलता है, तो इससे ब्लड फ्लो अधिक होने लगता है। ब्लड सर्कुलेट की रफ्तार जब बढ़ती है, तो इससे शरीर में अतिरिक्त ऊर्जा उत्पन्न होने लगती है। ऐसे में आपको अधिक गर्मी लग सकती हैं। वहीं,  अगर ब्लड वेसेल्स सिकुड़ जाए, तो  ब्लड सर्कुलेशन सही नहीं होता है। ऐसे में गर्मी लगती है।

कुछ बीमारियां भी होती हैं गर्मी का कारण 
कुछ अध्ययनों में इस बात का खुलासा हुआ है कि महिलाओं के शरीर का तापमान पुरुषों के शरीर के तापमान से अधिक होता है।
वहीं, जिन व्यक्तियों के शरीर में फैट की मात्रा अधिक होती है, उन्हे भी गर्मी अधिक लगती है।
इसके अलावा हाइपोथायरायडिज्म यानी अंडरएक्टिव थायरॉयड से ग्रसित मरीजों को भी काफी ज्यादा तापमान महसूस होता है।
अगर आपको एनीमिया, हार्टरी डिजीज जैसी परेशानी है, तो भी आपको अधिक गर्मी लग सकती है।

शरीर का तापमान ज्यादा होने का कारण?
अगर आप काफी ज्यादा कैफीनयुक्त चीजों का सेवन करते हैं, तो इसकी वजह से आपको ज्यादा गर्मी लग सकती है।
एल्कोहल का अधिक सेवन करने वालों के शरीर का तापमान ज्यादा होता है।
काफी ज्यादा स्ट्रेस में रहने वाले लोगों के शरीर का तापमान अधिक रहता है।
धूप में लंबे समय तक रहने के कारण भी ज्यादा गर्मी लग सकती है।
सिंथेटिक, मोटे या फिर टाइट कपड़े पहनने की वजह से भी शरीर का तापमान बढ़ जाता है।
शरीर का तापमान बढ़ने पर क्या करें?
बॉडी कूलिंग के लिए नैचुरल हाइड्रेटिंग चीजें जैसे- खीरा, तरबूज, वॉटरमेलन जैसी चीजें खाएं।
नारियल पानी, नींबू पानी इत्यादि नैचुरल ड्रिंक्स का सेवन करें।
मिंट से बनी चाय का सेवन करें।
गहरी सांस लें और हल्के-फुल्के एक्सरसाइज करें।
कुछ देर के लिए पैरों को ठंडे पानी में डुबोकर रखें।

About The Author

Advertisement

Latest News

हरियाणा में बोगस वोटिंग पर 2 पूर्व CM आमने-सामने हरियाणा में बोगस वोटिंग पर 2 पूर्व CM आमने-सामने
हरियाणा में पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल के सिरसा और रोहतक में बोगस वोटिंग पर दिए बयान पर पूर्व CM भूपेंद्र...
जम्मू में बस 150 फीट गहरी खाई में गिरी
लोगों ने फैसला कर लिया है, सर्वे आ चुका है कि आप 13-0 से जीत रही है: भगवंत मान
पंजाब के लोग 1 जून को अमित शाह की धमकी का जवाब देंगे, भाजपा की जमानत जब्त कराएंगे - केजरीवाल
चंडीगढ़ में बोले अरविंद केजरीवाल - अच्छे दिन आने वाले हैं, मोदी जी जाने वाले हैं
T20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय अभियान शुरू, न्यूयॉर्क में ऐसा रहा पहला सेशन, 2 महीने बाद आए साथ
क्या था लाहौर घोषणापत्र, जिसके बाद पाक ने किया विश्वासघात, अब शरीफ ने कहा-हमारी गलती थी