How To Reach Ayodhya: सड़क-रेल और हवाई मार्ग से कैसे पहुंचे अयोध्या?

How To Reach Ayodhya: सड़क-रेल और हवाई मार्ग से कैसे पहुंचे अयोध्या?

अयोध्या में 22 जनवरी को राम मंदिर की भव्य प्राण प्रतिष्ठा होनी है। इसी ऐतिहासिक दिन को नवनिर्मित मंदिर में रामलला विराजमान होंगे। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद रहेंगे। आम श्रद्धालु उद्घाटन के अगले दिन यानी 23 जनवरी से रामलला के दर्शन कर पाएंगे। प्रधानमंत्री ने सुरक्षा और व्यवस्था के मद्देनजर देशवासियों […]

अयोध्या में 22 जनवरी को राम मंदिर की भव्य प्राण प्रतिष्ठा होनी है। इसी ऐतिहासिक दिन को नवनिर्मित मंदिर में रामलला विराजमान होंगे। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद रहेंगे। आम श्रद्धालु उद्घाटन के अगले दिन यानी 23 जनवरी से रामलला के दर्शन कर पाएंगे। प्रधानमंत्री ने सुरक्षा और व्यवस्था के मद्देनजर देशवासियों से अपील की है कि वो 22 जनवरी को अयोध्या आने का प्रयास न करें। इसकी जगह जब अयोध्या में प्रभु श्रीराम विराजमान हों, तो सभी लोग दीपावली मनाएं और अपने अपने घरों में श्रीरामज्योति जलाएं। 

इस बीच, श्रद्धालुओं के अयोध्या पहुंचने के लिए विशेष इंतजाम किए जा रहे हैं। इसके तहत जहां पुनर्निर्मित रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट का उद्घाटन किया गया है तो वहीं कई नई बसें भी शुरू की गई हैं। 

आइए जानते हैं कि राम मंदिर के दर्शन के लिए अयोध्या कैसे पहुंचा जा सकता है? देश के विभिन्न हिस्सों से यातायात के साधन क्या हैं? सड़क, रेल और हवाई रास्ते से पवित्र नगरी कैसे पहुंचा जा सकता है? 

पहले जानते हैं नवनिर्मित राम मंदिर के बारे में
राम मंदिर रामायणकालीन नगरी अयोध्या (उत्तर प्रदेश) में स्थित है। सरयू नदी के पूर्वी तट पर बसा अयोध्या नगर राजधानी लखनऊ से 134 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। पुरातन काल के अवशेषों से भरा नगर दुनियाभर से आगुंतकों को अपनी ओर आकर्षित करता है।

राम मंदिर के अलावा भी यहां कई दर्शनीय स्थल हैं जिनका ऐतिहासिक और आध्यात्मिक महत्व है। इनमें हनुमान गढ़ी, रामकोट, श्री नागेश्वरनाथ मंदिर, कनक भवन, तुलसी स्मारक भवन, त्रेता के ठाकुर, जैन मंदिर, मणि पर्वत, छोटी देवकाली मंदिर, राम की पैड़ी, सरयू नदी, क्वीन हो मेमोरियल पार्क, गुरुद्वारा, सूरज कुंड, गुलाब बाड़ी, बहू-बेगम का मकबरा, कंपनी गार्डन और गुप्तार घाट जैसे स्थल शामिल हैं।

सड़क मार्ग से कैसे पहुंचे अयोध्या?
अयोध्या कई प्रमुख शहरों और कस्बों से सड़क मार्ग द्वारा जुड़ा हुआ है। प्रमुख शहरों से सड़क मार्ग द्वारा दूरी देखें तो अयोध्या से लखनऊ की दूरी 134 किमी है। वहीं, गोरखपुर से इसकी दूरी 147 किमी, झांसी से 441 किमी, प्रयागराज से 166 किमी और वाराणसी से 209 किमी है। 

रामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह का पल नजदीक आते ही यूपी रोडवेज ने पर्यटकों और श्रद्धालुओं को अयोध्या पहुंचाने की तैयारियां शुरू कर दी हैं। प्रदेश के लखनऊ परिक्षेत्र ने 50 स्पेशल बसें अयोध्या के लिए चलाने की घोषणा की है। वाराणसी परिक्षेत्र ने अयोध्या के लिए नई बसों का चलाने का निर्णय लिया है।

वहीं, अयोध्या डिपो की 120 बसें विभिन्न मार्गों पर दौड़ रही हैं। किसी एक क्षेत्र में जाने वाले लोगों की भीड़ होने पर तत्काल वहां के लिए बस उपलब्ध कराने की तैयारी है। वर्तमान में वाराणसी मार्ग पर अयोध्या डिपो की आठ, जबकि लखनऊ के लिए 16 बसें चल रही हैं।

ट्रेन के जरिए राम नगरी पहुंचने के साधन क्या हैं?
अयोध्या उत्तर रेलवे के मुगल सराय-लखनऊ मुख्य मार्ग पर स्थित है। कई गाड़ियों के द्वारा देश के विभिन्न भागों से आप यहां पहुंच सकते हैं। अयोध्या में इसका खुद का रेलवे स्टेशन है जो राम मंदिर से लगभग 800 मीटर दूर स्थित है। अयोध्या में बने पुनर्निर्मित रेलवे स्टेशन का हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी ने उद्घाटन किया था, जिसे नया नाम ‘अयोध्या धाम’ दिया गया था।  

राम मंदिर के उद्घाटन से पहले शहर के लिए कई रेल सेवाएं शुरू हो गई हैं या शुरू होने जा रही हैं। इसी कड़ी में अयोध्या धाम स्टेशन से आनंद विहार के लिए बीते शनिवार को वंदे भारत को हरी झंडी दिखाई गई। यह दोपहर 12.12 बजे अयोध्या कैंट से रवाना होकर 2.37 बजे चारबाग पहुंची। वंदे भारत एक्सप्रेस (22425) में लखनऊ से आनंदविहार का चेयरकार का किराया 1410 व एग्जीक्यूटिव क्लास का 2595 रुपये है, जो शताब्दी के अनुभूति क्लास कोच से भी महंगा है। कैटरिंग का शुल्क किराये में शामिल है। चेयरकार में यह 308 व एग्जीक्यूटिव क्लास में 369 रुपये है। ट्रेन बुधवार को छोड़कर अन्य दिनों में चलेगी।

वायु मार्ग से अयोध्या पहुंचने के लिए कहां से मिलेंगी उड़ानें?
अयोध्या के लिए सभी दिशाओं से उड़ान का शेड्यूल तय हो गया है। 6 जनवरी से इंडिगो और एयर इंडिया एक्सप्रेस से उड़ान की तारीखें तय हो गई हैं। बीते शनिवार को पीएम मोदी ने महर्षि वाल्मीकि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा का लोकार्पण कर दिया। एयरपोर्ट से विमानों का आना जाना शुरू हो गया। 6 जनवरी से एयरपोर्ट विमानों से आवाजाही शुरू हो जाएगी। जानकारी के मुताबिक, शहर के लिए देश की हर दिशा से जहाज आने जाने की संभावना है। इंडिगो और एयर इंडिया एक्सप्रेस से उड़ाने अलग-अलग तारीखों से शुरू होंगी।

Also Read: सर्दियों में मोटापा कम करने के लिए पिएं ये 5 तरह के सूप, कम समय मैं वजन होगा कम

Tags:

About The Author

Advertisement

Latest News

हरियाणा में बोगस वोटिंग पर 2 पूर्व CM आमने-सामने हरियाणा में बोगस वोटिंग पर 2 पूर्व CM आमने-सामने
हरियाणा में पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल के सिरसा और रोहतक में बोगस वोटिंग पर दिए बयान पर पूर्व CM भूपेंद्र...
जम्मू में बस 150 फीट गहरी खाई में गिरी
लोगों ने फैसला कर लिया है, सर्वे आ चुका है कि आप 13-0 से जीत रही है: भगवंत मान
पंजाब के लोग 1 जून को अमित शाह की धमकी का जवाब देंगे, भाजपा की जमानत जब्त कराएंगे - केजरीवाल
चंडीगढ़ में बोले अरविंद केजरीवाल - अच्छे दिन आने वाले हैं, मोदी जी जाने वाले हैं
T20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय अभियान शुरू, न्यूयॉर्क में ऐसा रहा पहला सेशन, 2 महीने बाद आए साथ
क्या था लाहौर घोषणापत्र, जिसके बाद पाक ने किया विश्वासघात, अब शरीफ ने कहा-हमारी गलती थी