बिक्रम मजीठिया ने एस.आई.टी. प्रमुख को चिट्ठी लिखी

बिक्रम मजीठिया ने एस.आई.टी. प्रमुख को चिट्ठी लिखी

चंडीगढ़ : एक बड़ी खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि अकाली नेता बिक्रम मजीठिया ने एस.आई.टी. प्रमुख को एक चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने खुद को एस.आई.टी. के समक्ष पेश होने के लिए एक महीने का समय मांगा है। मजीठिया ने 30 तारीख को एस.आई.टी. के समक्ष पेश होने में असमर्थता जताई […]

चंडीगढ़ : एक बड़ी खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि अकाली नेता बिक्रम मजीठिया ने एस.आई.टी. प्रमुख को एक चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने खुद को एस.आई.टी. के समक्ष पेश होने के लिए एक महीने का समय मांगा है। मजीठिया ने 30 तारीख को एस.आई.टी. के समक्ष पेश होने में असमर्थता जताई है। दरअसल एस.आई.टी. ने मजीठिया को 27 तारीख को पेश होने के आदेश दिए थे, लेकिन मजीठिया इस दिन पेश नहीं हुए। अब मजीठिया ने चिट्ठी लिखकर एस.आई.टी. प्रमुख से एक महीने का समय मांगा है। 

मजीठिया ने कहा कि एस.आई.टी. ने 18 तारीख को प्रश्न सूचि दी थी, जिनके जवाब के लिए समय चाहिए। मजीठिया ने कहा कि मुझे इन सभी बातों का जवाब देने के लिए कम से कम एक महीने का समय दिया जाए।

वहीं मजीठिया ने कहा कि एस.आई.टी. द्वारा लगातार तीन सम्मन जारी करना कुछ समझ नहीं आ रहा। मजीठिया का कहना है कि एस.आई.टी. द्वारा अचानक एक बार फिर से जांच तेज की गई है तथा मुझे डर है कि किसी झूठे केस में न फंसा दिया जाए। मजीठिया ने पत्र में डी.जी.पी. को भी ध्यान में लाया गया है कि 18 तारीख को एस.आई.टी. ने प्रश्न सूची दी थी, जिसके जवाब के लिए मुझे समय चाहिए। 

Tags:

About The Author

Advertisement

Latest News

हरियाणा में बोगस वोटिंग पर 2 पूर्व CM आमने-सामने हरियाणा में बोगस वोटिंग पर 2 पूर्व CM आमने-सामने
हरियाणा में पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल के सिरसा और रोहतक में बोगस वोटिंग पर दिए बयान पर पूर्व CM भूपेंद्र...
जम्मू में बस 150 फीट गहरी खाई में गिरी
लोगों ने फैसला कर लिया है, सर्वे आ चुका है कि आप 13-0 से जीत रही है: भगवंत मान
पंजाब के लोग 1 जून को अमित शाह की धमकी का जवाब देंगे, भाजपा की जमानत जब्त कराएंगे - केजरीवाल
चंडीगढ़ में बोले अरविंद केजरीवाल - अच्छे दिन आने वाले हैं, मोदी जी जाने वाले हैं
T20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय अभियान शुरू, न्यूयॉर्क में ऐसा रहा पहला सेशन, 2 महीने बाद आए साथ
क्या था लाहौर घोषणापत्र, जिसके बाद पाक ने किया विश्वासघात, अब शरीफ ने कहा-हमारी गलती थी