“ब्लैकस्पॉट 100 मीटर की दूरी पर है“ः पंजाब पुलिस द्वारा दुर्घटना वाले ब्लैक स्पॉटस की सफलतापूर्वक मेप करने स्वरूप यात्रियों को सचेत करेगी मैपलज़ एप

“ब्लैकस्पॉट 100 मीटर की दूरी पर है“ः पंजाब पुलिस द्वारा दुर्घटना वाले ब्लैक स्पॉटस की सफलतापूर्वक मेप करने स्वरूप यात्रियों को सचेत करेगी मैपलज़ एप

चंडीगढ़, 1 जनवरीः मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के प्रमुख प्रोजैक्ट ’सड़क सुरक्षा फोर्स’ की शुरुआत से पहले पंजाब की सड़कों को सुरक्षित बनाने के उद्देश्य से एक और पहलकदमी करते हुये पंजाब पुलिस ने मैपमाईइंडिया के सहयोग से राज्य भर की 784 दुर्घटनाओं वाले ब्लैक स्पॉटों को नेविगेशन सिस्टम मैपलस एप के द्वारा मेप किया […]

चंडीगढ़, 1 जनवरीः

मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के प्रमुख प्रोजैक्ट ’सड़क सुरक्षा फोर्स’ की शुरुआत से पहले पंजाब की सड़कों को सुरक्षित बनाने के उद्देश्य से एक और पहलकदमी करते हुये पंजाब पुलिस ने मैपमाईइंडिया के सहयोग से राज्य भर की 784 दुर्घटनाओं वाले ब्लैक स्पॉटों को नेविगेशन सिस्टम मैपलस एप के द्वारा मेप किया है। 

डायरैक्टर जनरल आफ पुलिस (डीजीपी) पंजाब गौरव यादव ने आज यहाँ यह जानकारी देते हुये बताया कि मैपलस एप का प्रयोग करने वाले नागरिक अब पंजाबी में वॉयस अलर्ट प्राप्त करेंगे जो यात्रियों को आगे आने वाले ब्लैक स्पॉट के बारे सचेत करेंगे, जिससे पंजाब सड़क सुरक्षा के हिस्से के तौर पर दुर्घटनाग्रस्त स्थानों की मैपिंग करने वाला पहला राज्य बन गया है। 

मैपमाईइंडिया की मैपलस एप, जिसको विशेष तौर पर भारत के लिए 100 फ़ीसद स्वदेशी एप के तौर पर तैयार किया गया है, वॉयस संदेश “ब्लैकस्पॉट 100 मीटर की दूरी पर है“ देकर यात्रियों को सचेत करेगी, जिससे पंजाब दुर्घटनाओं के बारे जानकारी देने वाला एकमात्र राज्य बना है। एक्सीडेंट ब्लैक स्पॉट एक ऐसी जगह है जहाँ इतिहास में आम तौर पर सड़की यातायात हादसे घटते रहते हैं। 

अतिरिक्त डायरैक्टर जनरल आफ पुलिस ( ए. डी. जी. पी.) ट्रैफ़िक अमरदीप सिंह राय ने अपने विचार सांझा करते हुये इस बात पर ज़ोर दिया कि यह ड्राइविंग सहायता पंजाब की सड़कों पर समूचे सुरक्षित ड्राइविंग अनुभव के लिए तैयार की गई है। उन्होंने विश्वास प्रकटाया कि पंजाबी में वॉयस अलर्ट को सक्रियता से लागू करना एक और ज्यादा चौकस ड्राइविंग कम्युनिटी बनाने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है। 

उन्होंने कहा कि दुर्घटना के ब्लैक स्पॉटस की ऐसी व्यापक मैपिंग को लागू करने वाला देश का पहला राज्य बनने के लिए पंजाब गर्व महसूस करता है। इसके इलावा, इस नवीन सुरक्षा को उपयोगकर्ताओं की ज़रूरतों के अनुसार बनाया गया है, जो क्षेत्रीय भाषाओं में वॉयस अलर्ट की पेशकश करती है। 

पंजाब के ट्रैफ़िक सलाहकार डाः नवदीप असीजा ने कहा कि मैपमाईइंडिया के सहयोग से राज्य भर में ट्रैफ़िक प्रबंधन को सुचारू बनाने के साथ-साथ बिना किसी लागत के नागरिकों, यात्रियों और आम लोगों की सुरक्षा को प्राथमिकता देने के लिए हमारे यत्नों में से एक विशेष कदम है।

Tags:

About The Author

Advertisement

Latest News

हरियाणा में बोगस वोटिंग पर 2 पूर्व CM आमने-सामने हरियाणा में बोगस वोटिंग पर 2 पूर्व CM आमने-सामने
हरियाणा में पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल के सिरसा और रोहतक में बोगस वोटिंग पर दिए बयान पर पूर्व CM भूपेंद्र...
जम्मू में बस 150 फीट गहरी खाई में गिरी
लोगों ने फैसला कर लिया है, सर्वे आ चुका है कि आप 13-0 से जीत रही है: भगवंत मान
पंजाब के लोग 1 जून को अमित शाह की धमकी का जवाब देंगे, भाजपा की जमानत जब्त कराएंगे - केजरीवाल
चंडीगढ़ में बोले अरविंद केजरीवाल - अच्छे दिन आने वाले हैं, मोदी जी जाने वाले हैं
T20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय अभियान शुरू, न्यूयॉर्क में ऐसा रहा पहला सेशन, 2 महीने बाद आए साथ
क्या था लाहौर घोषणापत्र, जिसके बाद पाक ने किया विश्वासघात, अब शरीफ ने कहा-हमारी गलती थी